जब हम मिलेंगे – एक सच्ची प्रेम कहानी

यद्यपि मिलन, प्रेम का अंतिम पड़ाव है (किंतु ऐसा अंतिम नहीं, जो पुनः मिलने की ललक ना पैदा करे) चरम है,किंतु फिर भी मैं इस सोच में हूँ कि जिस दिन हम मिलेंगे उस दिन क्या होगा! क्या वो दिन अन्य दिनों से भिन्न होगा, अथवा समान ही रहेगा! फिर स्वयं ही मस्तिष्क इसका उत्तर भी दे दे रहा है कि निश्चित ही वह दिन सबसे अलग होगा, सबसे उत्तम होगा, सबसे अधिक शोभनीय होगा!

उस दिन सूर्य की चमक सबसे अधिक होगी, सबसे अधिक कांतिमय होगा! उतनी ही उसमे जलन भी होगी हमे एक साथ देखकर! उसका पीलापन तुम्हारे पीले वस्त्रों से मात खा जाएगा!

true love story in hindi

यदि वो निशा हुई तो सबसे सुंदर और सबसे शीतल निशा होगी! उस रात का चंद्रमा अपनी हमशक्ल को मेरी पनाह में देखकर मंद मंद मुस्कुराएगा! वही आसमान से अपनी दूधिया रौशनी फैलाकर तुम्हारे चेहरे की दमक को बढ़ाता रहेगा, रात भर!

उस दिन हमारे आसपास की सम्पूर्ण प्रकृति अपने श्रृंगार के चरम पर होगी! उस दिन वृक्ष, लताएं, झाड़ियां सब तुम्हारी सुंदरता से अपनी तुलना करेंगे और हार जाने पर, जल भूनकर राख हो जाएंगे!

निश्चित रूप से, उस दिन तुमसे सुंदर कोई नहीं होगा, कुछ नहीं होगा!

उस दिन झींगुरों की शहनाई से लेकर, कोयल की कुक और मेंढकों की टर्र टर्र में भी एक संगीत छुपा रहेगा! दो बातें हो सकती हैं, या तो वृक्ष और लताओं की तरह वह भी हमदोनों से जले जले रहेंगे या फिर अगर उनमे ईर्ष्या न पनपी तब निश्चित रूप से हमदोनों के स्वागत में वे कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेंगे!

क्या पल होगा वो! क्या शमा होगी! और कितना अद्भुत होगा वह क्षण, जिस दिन अगल बगल में बैठे रहेंगे पीताम्बर और पीताम्बरी! और जिस पल मैं तुम्हारी गोद में एक बच्चे की तरह लेट जाऊंगा, बस वो समय, जैसे वही पर रुक जाएगा!

तुम जैसे ही चूमोगी मेरा माथा, मैं बस आंखें मूंद लूंगा और मेरे अवतरण के दिन मेरी मईया के प्रथम चुम्बन के बाद यह दूसरा सर्वश्रेष्ठ चुम्बन होगा मेरे लिए!

वही आस पास कही खिलें होंगे कुछ रातरानी के फूल और कुछ गुलाब भी, जो एक दूसरे की खुशबु से होड़ मचाए रहेंगे, हमे आनंदित करने के लिए!

वही कही पंछियों का एक जोड़ा आलिंगनबद्व होगा और उन्हें देखते हुए हम भी एक दूसरे को आलिंगनबद्व कर लेंगे, फिर फिर कही नहीं जाने के लिए, फिर कभी नहीं छोड़ने के लिए!

वो आलिंगन केवल आलिंगन मात्र नहीं होगा प्रिय! वह हमारी आत्माओं के आदान प्रदान का माध्यम भी होगा! उस आलिंगन के दौरान मेरा तुम्हारी और तुम्हारा मेरी आत्मा से वह संवाद स्थापित होगा, जो आगे हमारे प्रेम की दिशा और दशा तय करेगा!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Create your website with WordPress.com
Get started
<span>%d</span> bloggers like this: